Hindu Calendar Months name : हिंदी पंचांग के 12 माह के नाम

 दोस्त अंग्रेजी महीनों के नाम सभी लोगों को पता होता है लेकिन क्या आपको पता है कि हिंदी में हमारे जो महीने होते हैं उनके नाम क्या है यह दोस्तों हमारे संस्कृति को हमारे त्यौहारों को हिंदी महीनों के हिसाब से ही व्यवस्थित किया जाता है और जितने भी त्यौहार और अध्यात्म का कार्य होता है सभी दोस्तों हमारे हिंदी महीने की जरिए हैं सुनिश्चित किया जाता है तो आज के इस पाठ में हम पढ़ेंगे हिंदी महीनों के नाम और हिंदी महीनों का महत्व और पंचांग की मदद से कैसे त्योहारों को आयोजित किया जाता है और सारे विभिन्न तथ्यों के ऊपर हम आपको जानकारी प्रदान करने वाले हैं ।


{tocify} $title={Table of Contents}

भारतीय महीनों के बारे में ( about hindi mahina )

जिस प्रकार अंग्रेजी में 12 महीने होते हैं वैसे हिंदी माह के अनुसार हिंदी पंचांग के अनुसार भी 1 वर्ष में 12 महीने ही होते हैं । और हिंदू महीने के अनुसार नववर्ष का आरंभ चैत्र मां से होता है और वर्क अंत फाल्गुन मास से होता है । पता है इसलिए दोस्तों होली के दिन ही हमारे हिंदू महत्व के अनुसार हमारे हिंदी महीने का नववर्ष आरंभ होता है ।

 इसके साथ किसानों का लगाव भी जुड़ा होता है क्योंकि दोस्तों नव वर्ष के आरंभ के बाद चैत्र मास शुरू होता है और इसी चैत्र माह में हम रवि के फसल को काटते हैं जो किसानों के लिए बहुत खुशी का महीना होता है चारों तरफ लगा रवि का फसल लोगों के दिल को छू जाती है किसानों के हृदय को बहुत सुकून प्रदान करती हैं ।

हिंदी महीने का नाम ( hindi mahina name )

  • पौष
  • माघ
  • फाल्गुन
  • चैत्र
  • वैशाख
  • ज्येष्ठ
  • आषाढ़
  • श्रावण
  • भाद्रपद
  • आश्विन
  • कार्तिक
  • मार्गशीर्ष

हिन्दू मास पंचाग के अनुसार ( spritual )

  • पौष- 31 दिसंबर 2020 से 28 जनवरी 2021
  • माघ- 29 जनवरी से 27 फरवरी 2021
  • फाल्गुन- 28 फरवरी से 28 मार्च 2021
  • चैत्र- 29 मार्च से 27 अप्रैल 2021
  • वैशाख- 28 अप्रैल 26 मई 2021
  • ज्येष्ठ- 27 मई से 24 जून 2021
  • आषाढ़- 25 जून से 24 जुलाई 2021
  • श्रावण- 25 जुलाई से 22 अगस्त 2021
  • भाद्रपद- 23 अगस्त से 20 सितंबर 2021
  • आश्विन- 21 सितंबर से 20 अक्तूबर 2021

  • कार्तिक- 21 अक्तूबर से 19 नवंबर 2021
  • मार्गशीर्ष- 20 नवंबर से 19 दिसंबर 2021
  • पौष- 20 दिसंबर 2021 से 17 जनवरी 2022

Post a Comment

Previous Post Next Post